Sukanya Samriddhi Yojana 2024 सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ, आज ही आवेदन करे

Sukanya Samriddhi Yojana भारत सरकार द्वारा बेटियों के उज्जवल भविष्य के लिए चलाई जा रही एक महत्वकांक्षी योजना है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य बेटियों को शिक्षा और विवाह के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है।

Sukanya Samriddhi Yojana : उद्देश्य और लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना का प्रमुख उद्देश्य बेटियों के भविष्य को सुरक्षित और उज्जवल बनाना है। यह योजना बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। योजना के तहत, 10 वर्ष से कम उम्र की बेटियों का खाता खोला जाता है जिसमें 1 वर्ष में न्यूनतम ₹250 और अधिकतम ₹1,50,000 जमा किए जा सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Sukanya Samriddhi Yojana योजना के लाभ

  1. आर्थिक सहायता: योजना में 10 वर्ष से कम उम्र की बेटियों का खाता खोला जाता है।
  2. निवेश सीमा: आप एक वर्ष में न्यूनतम ₹250 और अधिकतम ₹1,50,000 जमा कर सकते हैं।
  3. नियमित निवेश: खाता खुलवाने की तारीख से 15 वर्षों तक नियमित निवेश करना होगा, उसके बाद के 6 वर्षों में निवेश की आवश्यकता नहीं होती।
  4. ब्याज दर: वित्तीय वर्ष 2024 के लिए 8% की ब्याज दर मिलती है।
  5. परिपक्वता: खाता खोलने के 21 वर्षों बाद आपकी जमा की गई राशि परिपक्व हो जाएगी।
  6. आंशिक निकासी: 18 वर्ष की आयु में और कॉलेज में प्रवेश लेने पर उच्च शिक्षा के लिए 50% राशि निकाली जा सकती है।
  7. कर लाभ: योजना के तहत जमा की गई राशि धारा 80C के अंतर्गत टैक्स फ्री होती है।
  8. स्थानांतरण सुविधा: परिवार के माइग्रेट होने पर खाता एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर किया जा सकता है।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए पात्रता

  1. आयु सीमा: खाता खुलवाने के लिए बेटी की उम्र 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  2. संयुक्त खाता: खाता माता या पिता के साथ संयुक्त रूप से खोला जाता है।
  3. दो बेटियों तक: एक परिवार में अधिकतम दो बेटियों को लाभ मिलता है। जुड़वा बेटियों को भी लाभ दिया जाएगा।
  4. गोद ली हुई बेटियां: गोद ली गई बेटियां भी योजना के अंतर्गत पात्र हैं।

Read More

राशन कार्ड से इन 8 सरकारी योजनाओं का उठाएं लाभ | Rashan Card Yojana

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए आवेदन प्रक्रिया

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन है। इसके लिए आप अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक में जाकर खाता खुलवा सकते हैं।

  1. फॉर्म प्राप्त करें: आवेदन फॉर्म पोस्ट ऑफिस या बैंक में उपलब्ध होता है।
  2. फॉर्म भरें: फॉर्म भरकर आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।
  3. फॉर्म जमा करें: भरे हुए फॉर्म को पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा करें।

Sukanya Samriddhi Yojana की ऑफिसियल वेबसाईट

www.nsiindia.gov.in

निवेश और ब्याज की गणना

अब मान लेते हैं कि आपकी बेटी 1 वर्ष की है और आप 2024 में सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खोलते हैं।

  • मासिक निवेश: अगर आप 15 वर्षों तक हर महीने ₹1000 जमा करते हैं तो आप 15 साल में कुल ₹1,80,000 जमा करेंगे। 8% ब्याज दर पर आपको ₹3,58,763 का ब्याज मिलेगा। 21 वर्षों बाद आपकी कुल राशि ₹5,38,763 होगी।
  • वार्षिक निवेश: अगर आप 15 वर्षों तक हर साल ₹24,000 जमा करते हैं, तो आप 15 साल में कुल ₹3,60,000 जमा करेंगे। 8% ब्याज दर पर आपको ₹7,17,526 का ब्याज मिलेगा। 21 वर्षों बाद आपकी कुल राशि ₹10,77,526 होगी।

निष्कर्ष :-

सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने का एक उत्तम तरीका है। इस योजना के माध्यम से न केवल उनकी शिक्षा और विवाह के लिए आर्थिक सहायता प्राप्त होती है, बल्कि यह माता-पिता को भी वित्तीय स्थिरता प्रदान करती है।

अपनी बेटी का खाता आज ही खोलें और उसके उज्जवल भविष्य की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाएं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment